ईमेल पर अपडेट प्राप्त करें

बिल और मेलिंडा गेट्स संस्थान से ईमेल अपडेट्स प्राप्त करने के लिए साइन अप करें।

अब आप हमारी मेलिंग लिस्ट में सब्स्क्राइब्ड हैं

मामला अध्ययन (केस स्टडी)

परिवार नियोजन: सेनेगल

प्रस्तावना

बिल और मेलिंडा गेट्स द्वारा

शायद परिवार नियोजन की महत्ता का वर्णन करने का सर्वोत्तम तरीका यह है: परिवार नियोजन के उद्देश्यों को हासिल करना इस बात की संभावना को बढ़ा देता है कि हम लगभग हर दूसरे सतत विकास लक्ष्य को प्राप्त करेंगे।

ग़रीबी। माँओं की मृत्य दर। बच्चों की मृत्यु दर। शिक्षा। लिंग समानता। यह सब और बेहतर हो जाते हैं जब महिलाएँ अपनी गर्भावस्थाओं की योजना बना सकती हैं ताकि वे एक बच्चा होने पर शारीरिक और आर्थिक रूप से तैयार हों।

लेकिन सेक्स और पारिवारिक जिन्दगी के आसपास के कायदे बहुत शक्तिशाली होते हैं। बहुत से देशों में, परिवारों को आम तौर पर नियोजित नहीं किया जाता। उन्हें विकल्प प्रदान करने का काम न केवल तकनीकी ही हैं—बल्कि इसमें और अधिक धन जुटाना, नए उत्पादों का विकास करना और खराब प्रणालियों की मरम्मत करना भी शामिल है। यह काफी हद तक सांस्कृतिक भी है।

इन चुनौतियों के बावजूद, बहुत से विकासशील देशों ने परिवार नियोजन को प्राथमिकता देना शुरु कर दिया है क्योंकि वे उससे पड़ने वाले प्रभाव को समझते हैं। पिछले कई वर्षों में, 40 से अधिक देशों ने सम्यक राष्ट्रीय परिवार नियोजन योजनाएं शुरू की हैं।

हमने सेनेगल में, सबसे सफल परिवार नियोजन कार्यक्रमों में से एक में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले दो लोगों से अपने अनुभव के बारे में लिखने को कहा। फातिमाता साई ऊआगाडूगू साझेदारी की समन्वय इकाई की निदेशक हैं, नौ फ़्रैंकोफ़ोन पश्चिम अफ्रीकी देशों का एक गठबंधन, जो परिवार नियोजन संबंधी जानकारी और सेवाओं के साथ इस क्षेत्र में और महिलाओं तक पहुंचने के लिए प्रतिबद्ध है। इमाम मूज़े फॉल, आबादी पर इस्लामिक नेटवर्क के संस्थापक, अपने साथी इमामों को यह सोचने में मदद करते हैं कि कैसे परिवार नियोजन उनके धर्मशास्त्र में सही बैठता है।

साथ मिलकर, श्रीमती साई और इमाम फॉल यह सुनिश्चित करने के लिए उस ज़रूरी कार्य की व्यापकता और गहराई दर्शाते हैं कि सभी परिवार अपनी पूर्ण क्षमता को अनलॉक करने के लिए फैसले ले सकें।

सेनेगल में आधुनिक गर्भनिरोधक की प्रचलित दर
अब तक की प्रगति
19902016
0
5
10
15
20%
3%
15%
राष्ट्रीय परिवार नियोजन कार्रवाई योजना की शुरूआत हुई
2012

फील्ड से

फातिमाता साई

ऊआगाडूगू साझेदारी के लिए समन्वय इकाई की निदेशक

2011 में, सेनेगल और पश्चिमी अफ्रीका भर में यौन और प्रजनन स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंच को बढ़ाना एक सपना सा था।

हमारी संस्कृतियों और मानदंडों ने निर्धारित किया था कि महिलाओं के बहुत से बच्चे हों और अधिकतर लोगों को अक्सर गर्भधारण करने के स्वास्थ्य जोखिमों—या उनसे कैसे बचा जाए, के बारे में पता ही नहीं था। अफसोस की बात है, जिन्हें इसका पता था उन्होंने पाया कि सार्वजनिक स्वास्थ्य सुविधा-केन्द्रों में उनकी ज़रूरत के मुताबिक गर्भनिरोधक ही मौजूद नहीं थे।

लेकिन जब हमने ऊआगाडूगू साझेदारी शुरू की, और जब सेनेगल ने इस क्षेत्र में परिवार नियोजन के लिए पहली राष्ट्रीय कार्य योजना विकसित करने के लिए नेतृत्व किया तो सब कुछ बदल गया। सेनेगल में सभी लोग इस योजना को विकसित करने में शामिल थे।

सरकार ने यथास्थिति को बदलने के लिए महत्वाकांक्षी नीतियों के साथ लहजे को भी तय किया, साथ ही साथ उनका समर्थन करने के लिए वित्तपोषण भी किया। सेनेगल में नागरिक समाज के साथ-साथ लगभग हर रुचि समूह ने प्रतिनिधित्व किया: धार्मिक नेता, समुदाय के अधिवक्ता, युवा, और अन्य लोग। पहली बार, बदलाव के लिए वेग मौजूद था।

सेनेगल ने यह सुनिश्चित करने के लिए कि सेवाओं की तलाश करने वाली कोई भी महिला खाली हाथ घर न जाए, अपनी आपूर्ति श्रृंखला का पुनर्निर्माण किया।

कार्य योजना ने रचनात्मक तरीकों से कई परस्पर जुड़ी चुनौतियों को संबोधित किया, जिसमें प्रजनन स्वास्थ्य सेवाओं की मांग बढ़ाने और आपूर्ति बढ़ाने के लिए रणनीतियाँ शामिल थीं। उदाहरण के लिए, मांग बढ़ाने के लिए, सेनेगल ने एक जन जागरूकता अभियान शुरू किया गया, कि एक के बाद एक गर्भधारण करने वाली महिलाओं और उनके बच्चों के स्वास्थ्य पर क्या असर पड़ता है।

एक साल तक, प्रेस टीवी, रेडियो पर और समाचार पत्रों और पत्रिकाओं में परिवार नियोजन के बारे में लगातार बात की। कई तर्क-वितर्क हुए। हर जगह पोस्टर लगे थे। एक ऐसे देश में परिवर्तनकारी वेग आया था जहाँ ऐसे विषयों पर बात करना काफी लम्बे समय से वर्जित था।

आपूर्ति की ओर से, सेनेगल ने, निजी क्षेत्र के भागीदारों के मार्गदर्शन के साथ, यह सुनिश्चित करने के लिए कि सेवाओं की तलाश करने वाली किसी भी महिला को खाली हाथ नहीं भेजा जाए, अपनी गर्भनिरोधक आपूर्ति श्रृंखलाओं को विकेंद्रीकृत कर दिया था। जब हमने शुरुआत की, तो कुछ प्रकार के गर्भ निरोधक केवल 20 प्रतिशत समय तक ही स्टॉक में होते थे, लेकिन अब यह संख्या देश भर में 98 प्रतिशत से भी अधिक है। मैं अब भी उनके द्वारा प्रयोग किये गये नारे के बारे में सोचती हूँ: "जब कोई उत्पाद नहीं होता, तो कोई प्रोग्राम नहीं होता।"

सेनेगल की उन्नति ने लोगों को हैरान कर दिया, और अब ऊआगाडूगू साझेदारी के दूसरे देश भी असाधारण फायदे उठा रहे हैं।

और जो बात अब मुझे और भी उत्साहित करती है वह है कि अब केवल स्वास्थ्य मंत्री ही नहीं है जो परिवार नियोजन के बारे में सुनना चाहते हैं। अब वित्त, जनसंख्या और शिक्षा मंत्री भी इसके बारे में जानना चाहते हैं। वे समझ गये हैं कि परिवार नियोजन केवल स्वास्थ्य के बारे में नहीं है, जो "किसी और की समस्या है।" यह भविष्य के बारे में है, जिसके लिए हम सभी जिम्मेदार हैं।

लंबे समय तक, सेनेगल में जिंदगी में बहुत सी चीज़ों की कमियाँ थीं। पानी की कमी। बिजली की कमी। स्कूलों की कमी। नौकरियों की कमी। कमी, कमी, कमी। लेकिन अगली पीढ़ी के लिए, जिन्दगी बेहतर हो सकती है। यह संभव है। यह मेरा सपना है, और यह एक वास्तविकता बनने जा रहा है।

फील्ड से

मूज़े फॉल

इमाम और आबादी पर इस्लामिक नेटवर्क के संस्थापक

मेरी माँ के आठ बच्चे थे। मैं नीचे से दूसरे नम्बर पर था। उनका निधन तब हुआ जब वे 43 वर्ष की थीं। उसी क्षण से, मुझे दुनिया के खतरों से अकेले ही जूझना पड़ा।

हमने जान लिया कि उनकी मृत्यु का मुख्य कारण वे गर्भावस्थाएँ थीं जो एक-दूसरे के काफी करीब थीं। मैं नहीं चाहता था कि ऐसा किसी और के साथ भी हो। मैं नहीं चाहता था कि ऐसा किसी और के साथ भी हो।

जब मैं बड़ा हुआ और मैंने इस्लामिक विचारों का अध्ययन शुरु किया, तो मैंने नोटिस किया कि कितने धार्मिक अधिकारी परिवार नियोजन का विरोध करते हैं। कुरान प्रामाणिक है, लेकिन धार्मिक अधिकारियों को अपने समय की वास्तविकता के आधार पर उसकी व्याख्या करनी होती है। हमारे पास आज स्काइप है, लेकिन कोई भी कुरान में स्काइप की तलाश नहीं कर रहा है। हालांकि, संचार से संबंधित सभी कुरान के विषय स्काइप पर लागू हो सकते हैं। यह वह बौद्धिक प्रयास है, जिसका धार्मिक अधिकारियों को सामना करना होगा। हम उन्हें ऐसा करने में मदद करने की कोशिश करते हैं।

उदाहरण के लिए, पैगंबर ने महिलाओं को प्रसवों के बीच अंतर रखने के लिए प्रोत्साहित किया क्योंकि दो पूर्ण वर्षों तक स्तनपान करवाना उनका कर्तव्य है। हदीसों ने भी इसकी पुष्टि की है। सबसे अधिक इस्तेमाल किये जाने वालों में, पैगंबर ऑफ इस्लाम अपने बेटे को खोने के बारे में बात करते हैं, जबकि वह एक साल दस महीनों का था। पैगंबर कहते हैं, "मेरे बेटे ने इस दुनिया को छोड़ दिया है, हालांकि उसका स्तनपान का समय अभी समाप्त नहीं हुआ था।" जिन इमामों के साथ हम काम करते हैं, वे इन सभी आयतों के बारे में जानते हैं। जब हम उनका एक साथ अध्ययन करते हैं, तो वे आमतौर पर हमारे तर्कों से सहमत होते हैं। अगला कदम है कि इस विषय को सामान्य करने का प्रयास करें और विवाह के पवित्र संबंधों से उचित रूप से जुड़े जोड़े के लिए इसे आरक्षित करें।

हमने जो हासिल किया है वह पूरे पश्चिमी अफ्रीका में हो सकता है। सेनेगल की सफलता प्रेरणा का स्रोत हो सकती है।

सेनेगल के हर जिले में, हम स्थानीय डॉक्टरों और प्रभावशाली इमामों को प्रशिक्षण सत्रों की पेशकश करते हैं। हम धार्मिक और चिकित्सीय मुद्दों दोनों को कवर करते हैं, ताकि इमाम यह भी समझ सकें कि गर्भनिरोधक कैसे काम करते हैं और क्या दुष्प्रभाव हो सकते हैं। यह मुश्किल और लगातार चलने वाला कार्य है। हमने 3,000 से अधिक इमामों को प्रशिक्षित किया है जो अब हमारे साथ हैं। शुरुआत में, वे असल में परिवार नियोजन के विरुद्ध थे।

मुझे यकीन है कि जो हमने सेनेगल में हासिल किया है वह पूरे पश्चिमी अफ्रीका में किया जा सकता है। हमारी वास्तविकताएँ अलग नहीं हैं, बल्कि वे उपनिवेशवादी थे जिन्होंने देशों के बीच सीमाएँ बना दी हैं। हमारी समान मान्यताएँ हैं और लगभग समान भाषाएँ हैं। हमने इस्लाम को एक ही समय पर प्राप्त किया है। सेनेगल की सफलता प्रेरणा का स्रोत हो सकती है।

मैं उन लोगों के होने की आशा करता हूँ जो बेहतर भविष्य के निर्माण में अपनी ताकतों का उपयोग कर सकते हैं। मेरा मानना है कि जो काम हम एक साथ कर रहे हैं वह इस लक्ष्य की दिशा में प्रगति है। इंशाअल्लाह (भगवान की कृपा से)।

आंकड़ों के पीछे की कहानियाँ

© 2017 बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन। सर्वाधिकार सुरक्षित।